Pages

देवनागरी में लिखें

Sunday, 16 March 2014

होली की असीम शुभकामनायें


ईद और होली...एक ही संदेश देता है .....
सौहार्द्य का पर्व ..... 
सारे गिले शिकवे मिटा कर ,
गले मिलने का पर्व .....
होली की असीम शुभकामनायें .....  

==
ईद मिलन
इजहारे इश्क है
होली मिलन ।
==



ससुर -बहु 


मेरी बहु माया शादी के बाद आज पहली होली 
इसकी प्यारी मुस्कान बहुत कुछ कहती है 

==========
मेरे हाइकु 
=========

उड़ा गुलाल
धनक बनी धरा
गगन लाल ।

=====

भूमि सज ली
सृष्टि ब्यूटीशियन
टेसू लाली से ।

=====

स्वांग करते 
हनुमान लगते 
चेहरे पुते ।

=====



आज मेरी सासू जी की दूसरी पुण्य-तिथि है ...... 
थोड़ी मायूसी का रंग ,खुशी के रंग में 
घुली मिली होती ही है .....





17 comments:

  1. holi mubarak vibha ji ...bahu ko bahut sara pyar aur ashirwad ...mata ji bhi aashirwad hi de rahi hongi jahan bhi hai ....unko sadar naman __/\__

    ReplyDelete

  2. ब्लॉग बुलेटिन की आज की बुलेटिन होली की हार्दिक मंगलकामनाएँ - ब्लॉग बुलेटिन मे आपकी पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

    ReplyDelete
  3. सामयिक और सुन्दर पोस्ट.....आप को भी होली की बहुत बहुत शुभकामनाएं...
    नयी पोस्ट@हास्यकविता/ जोरू का गुलाम

    ReplyDelete
  4. सुंदर प्रस्तुति...!
    सपरिवार रंगोत्सव की हार्दिक शुभकामनाए ....
    RECENT पोस्ट - रंग रंगीली होली आई.

    ReplyDelete
  5. ज़ीवन के सारे रंग समाएं हैं इस त्यौहार में... शुभकामनाएं !!

    ReplyDelete
  6. बहुत सुंदर पोस्ट.... होली की शुभकामनाएं ...

    ReplyDelete
  7. आपको सपरिवार होली की हार्दिक शुभकामनाएँ !

    ReplyDelete
  8. बहुत सुंदर प्रस्तुति ...होली का पावन पर्व आप सभी के जीवन को ख़ुशी, उन्नति और उल्लास के रंगों से भर दे. आपके और आपके पूरे परिवार को रंगों के पर्व होली की विलंबित शुभकामनाएँ ... वैसे बिहार में होली के दूसरे दिन बूढ़वा होली मनाने की भी परम्परा है.

    ReplyDelete
  9. सुन्दर पोस्ट , सुन्दर तस्वीरों के साथ .

    ReplyDelete
  10. सुन्दर चित्रों के साथ सुन्दर पोस्ट..

    ReplyDelete
  11. सुंदर सचित्र रचना ... होली की शुभ कामनाएं ...

    ReplyDelete
  12. होली की ढेरों शुभकामनायें आप सबको।

    ReplyDelete
  13. बहुत सुंदर. शुभकामनाएँ !
    नई पोस्ट : कुछ कहते हैं दरवाजे

    ReplyDelete
  14. सुंदर प्रस्तुति..होली की शुभकामनाएँ

    ReplyDelete
  15. किसी कारण वश इससे पहले आपका मेल नहीं देख सकी, देर आयद दुरस्त आयद..आप सभी को बहुत बहुत बधाई !

    ReplyDelete

आपको कैसा लगा ... ये तो आप ही बताएगें .... !!
आपकी आलोचना की जरुरत है.... ! निसंकोच लिखिए.... !!